bebacbharat@gmail.comClick on the button to contact

गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस थे..

loading...

गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाषचंद्र बोस थे, इसके कुछ और सबूत सामने आए हैं। गुमनामी बाबा के एक बक्से से मंगलवार को नेताजी के माता-पिता जानकीनाथ बोस और प्रभावती बोस की तस्वीरें मिलीं।

netaji-gumnami-baba-1_landscape_1458109505

loading...

फैजाबाद के जिला कोषागार में रखे गुमनामी बाबा के सामान को अंतरराष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय में प्रदर्शित करने के लिए प्रशासकीय समिति की ओर से जांच की जा रही है। इस दौरान एक बक्से से नेताजी के माता-पिता की अलग-अलग तस्वीरों के अलावा उनके 11 भाई-बहनों की तस्वीर भी मिलीं। इनमें नेताजी खुद भी नजर आ रहे हैं। बक्से से नेताजी के भांजे-भांजियों के भी चित्र निकले।

भतीजी ने की थी पुष्टि: जस्टिस मुखर्जी आयोग ने बक्से में मिले चित्रों की पहचान नेताजी की भतीजी ललिता बोस से कराई थी। उन्होंने सभी लोगों के नाम आयोग को बताए थे।

नेताजी की भतीजी ललिता ने चित्रों को पहचाना था
भारत सरकार की ओर से गठित जस्टिस एमके मुखर्जी आयोग गुमनामी बाबा के सामानों में महत्वपूर्ण दस्तावेजों को छांटकर अपने साथ नई दिल्ली ले गया था जिसे बाद में राष्ट्रीय अभिलेखागार में रखवाया गया।

उन्हीं सामानों में यह चित्र साथ में शामिल था। मुखर्जी आयोग ने गुमनामी बाबा के सामानों में मिले इन चित्रों की पहचान नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की भतीजी ललिता बोस से कराई थी। ललिता बोस ने सभी चित्रों को पहचान कर उनका नाम भी आयोग को बताया था। आयोग ने ललिता बोस की ओर से दी गई जानकारियों के आधार पर ही चित्रों में मौजूद लोगों के नामों को सूचीबद्ध किया है।

loading...