आविष्‍कार, बिना डीजल-पेट्रोल के चलेंगी गाड़ियां !

loading...

अगर जयपुर के इ्ंद्रकुमार का आविष्‍कार सफल हुआ तो वाहनचालकों को पेट्रोल, डीजल आदि र्इंधनों की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। जयपुर में वैशाली नगर के रहने वाले इंद्रकुमार रत्‍नू ने एक ऐसा वाहन बनाया है, जिसे चलाने के लिए किसी भी तरह का ईंधन इस्‍तेमाल नहीं होगा। ये वाहन ग्रेविटी यानी गुरुत्‍वाकर्षण से चलेगा। इस वाहन को एक स्प्रिंग की मदद से चलाया जाएगा। वाहन में किसी भी तरह के ईंधन का इस्‍तेमाल ने होने के कारण प्राकृतिक संसाधनों को बचाया जा सकेगा।

loading...

किसी भी वाहन को चलाने के लिए हवा, गैस या बिजली का इस्‍तेमाल होता है, लेकिन इंद्रकुमार का वाहन ईंधन की मदद के बिना ही दौड़ेगा। इंद्रकुमार ने अपने इस आविष्‍कार को नाम दिया है ‘ग्र‍ेविटी व्‍हीकल’। इस वाहन में स्प्रिंग को स्‍पोक में इस्‍तेमाल किया जाएगा। इससे होने वाले पिस्टन एक्शन से ग्रेविटी का दबाव बनाने के साथ ऊर्जा में तब्‍दील करने के काम लिया जा सकता है। इसी ऊर्जा से इस वाहन को चलाया जा सकता है।

Untitled
इंद्र कुमार के मुताबिक, उन्होंने अभी इसका मॉडल ही बनाया है। इसे बनाने में 60 हजार से ज्यादा का खर्च आया। उनका दावा है कि यदि इसे टेक्नोलॉजी के तौर पर इस्तेमाल किया जाए, तो यह ग्लोबल वॉर्मिग और प्राकृतिक संसाधानों की कमी को दूर करने में मदद करेगा। वे कहते हैं कि रेलवे के वैगन में भी इस तकनीकको इस्तेमाल किया जा सकता है।

गौरतलब है कि इंद्रकुमार 35 साल पहले इंदौर एयरपोर्ट पर ‘एयरकार’ बना चुके हैं। इसमें पवन ऊर्जा का इस्तेमाल किया गया था, जबकि ग्रेविटी व्हीकल में स्प्रिंग के दवाब से बनने वाली ऊर्जा का इस्तेमाल किया जा रहा है।

loading...
loading...
loading...