हवाई हमले में मारा गया ISIS का सेना प्रमुख उमर अल शिशानी

लंदन, 14 जुलाई: अमेरिका के सर्वाधिक वांछित आतंकी ‘उमर द चेचेन’ जिसे आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) का रक्षा प्रमुख माना जाता था, उसकी मौत की पुष्टि आईएस ने कर दी है। यह बात गुरुवार को मीडिया की खबरों में कही गई है। उमर अल शिशानी की मौत के अमेरिकी दावे के महीनों बाद आईएस ने कहा कि उसके ‘मिनिस्टर ऑफ वार’ की इराकी शहर शिरकत में शहादत हो गई। वह शहर में सैन्य अभियान को रोकने की कोशिश कर रहा था।

Abu-Omar-al-Shishani-death

सैन्य अधिकारियों की ओर से शिशानी की सूचना के लिए 50 लाख डॉलर का प्रस्ताव दिया गया था।

अमेरिकी सेना के मुख्यालय पेंटागन ने दावा किया था कि वह सीरिया में मार्च में हुए अमेरिकी हवाई हमले में घायल हुआ था और उसी वजह से उसकी मौत हुई।

आईएस की खबरें देनेवाली अमाक न्यूज एजेंसी की ओर से शिशानी की मौत की खबर जारी हुई। इसी एजेंसी ने पहले उसके मार्च में मौत होने की खबरों से इनकार किया था।

तीस वर्षीय शिशानी को लाल रंगी हुई दाढ़ी से पहचाना जाता था। वह जार्जिया और चेचेन के मिलेजुले परिवार में पैदा हुआ था। वह जार्जिया की सेना की ओर से दो साल तक रूसी सेना से लड़ा था।

उसे अमेरिकी खुफिया सूत्र एक समर्थ कमांडर बताते थे। बताया जाता है कि उससे आईएस प्रमुख अबू बकर अल बगदादी अक्सर विमर्श करता था।

loading...
loading...