बड़े नुकसान से बचना चाहते हैं तो भूल से भी “शिवलिंग” पर ना चढ़ाएं ये चीजें

loading...

सावन माह शुरू हुए अब लगभग एक सप्ताह गुजर गया है. कहीं मंदिरों में Shivling का अभिषेक करते जमघट लगा हुआ है तो कहीं भोले भक्त अपनी कांवड़ यात्रा का आनंद उठाते नजर रहे हैं. भगवान शिवजी की पूजा आराधना के लिए यह माह सर्वोत्तम माना गया है. कहा जाता है कि इस माह में भगवान शिव की पूजा करने से अक्षय पुण्य के साथ-साथ सभी दुख-दर्दों से भी मुक्ति मिलती है. लेकिन भोलेनाथ स्वभाव से जितने भोले हैं उनका क्रोध भी उतना ही दुखदायी हो सकता है. जरुरी है कि शिवलिंग का अभिषेक करते समय इन कुछ खास नियमों और बातों का अवश्य ध्यान रखें, नहीं तो भगवान शिव रुष्ट भी हो सकते हैं. पूजन सामग्री की कुछ ऐसी चीजें हैं जो शिवलिंग पर चढ़ानी नहीं चाहिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं…

loading...

Shivling-pooja-by-lord-Ganesha

  • शिवपुराण के मुताबिक, शिव जी ने तुलसी के पति राक्षस शंखचूड़ का वध किया था. यही कारण है कि शंखचूड़ की पत्नी होने की वजह से तुलसी को शिवलिंग पर नही चढ़ाया जाता.
  • शास्त्रों के मुताबिक, शिवलिंग पुरुष तत्व का प्रतिक है और हल्दी स्त्रियोचित वस्तु. यही कारण है कि शिवलिंग पर हल्दी चढ़ाना मना है.
  • बताया जाता है कि प्राचीन काल में ब्रह्मा और विष्णु ने Shivling का छोर खोजने की कोशिश की थी. जिसमे ब्रह्मा ने झूट बोला कि उन्हें छोर मिल गया है. इस झूट में उनका साथ केतकी के पौधे ने दिया था. जिस कारण शिव भगवान उससे रुष्ट हो गए थे. यही कारण है कि शिवलिंग पर केतकी का फूल नहीं चढ़ाया जाता.
loading...
loading...
loading...