मंगलवार को करें यह प्रयोग, चुटकियों में पूरे होंगे बिगड़े काम

जिस पर हनुमान जी की कृपा होती है उसके सारे कार्य पूर्ण हो जाते हैं। एकादश रुद्रावतार हनुमान जी मंगल के अधिष्टाता हैं। राम भक्त हनुमान जी की पूजा-उपासना के लिए मंगलवार अौर शनिवार का दिन विशेष महत्व रखता है। जब हनुमान जी का जन्म हुआ तो उस दिन मंगलवार था। माना जाता है कि मंगलवार को विशेष प्रयोग करने से चुटकियों में बिगड़े काम बनने लगते हैं, हर समस्या का समाधान होने लगता है और मनोकामनाएं भी पूरी होती हैं। आइए जानें:

Ram hanuman temple -wallpaper-HD-1418012656

– मंगलवार को सुबह जल्दी उठकर स्नान कर 7 बार हनुमान चालीसा पढ़ें।

– शनि के दोषों से छुटकारा पाने के लिए शनिवार वाले दिन हनुमान जी को चोला अर्पित करें। कुमकुम अौर चमेली का तेल अर्पित करके हनुमान चालीसा या उनके अन्य मंत्रों का जाप करें अौर तिल के तेल का दीपक जलाएं। इसके पश्चात काले चने, गुड़ अौर नारियल अर्पित करने के बाद शनि दोषों से बचने हेतु अंजनी पुत्र हनुमान को 108 नामों का ध्यान करने से लाभ अवश्य मिलता है।

– हर मंगलवार हनुमान जी काे संतरी सिंदूर में चमेली का तेल मिलाकर उन्हें चोला चढ़ाएं।

– मंगल ग्रह के कारण स्वास्थ्य संबंधित समस्या आ रही हो तो मंलवार के दिन हनुमान जी को चोला अौर साथ में चमेली का तेल, कुमकुम, चने अौर सूरजमुखी के फूल अर्पित करें। इसके पश्चात पीपल के नौ पत्ते लेकर उन पर चंदन की लकड़ी से श्री राम नाम लिखकर हनुमान जी को अर्पित करके उनकी 108 परिक्रमा करके विनती करें। बिगड़े कार्य बनने शुरु हो जाएंगे।

 

– हनुमान जी दांए पैर से टीका लेकर अपने माथे पर लगाएं।

 

– डर अौर तनाव से मुक्ति पाने के लिए राम भक्त हनुमान जी का 7 दिन विशेष पूजन करें। प्रतिदिन हनुमान चालीसा अौर हनुमान अष्टक का 100 बार उच्चारण करें।

– सुंदरकांड का पाठ करें।

– दक्षिण की अोर मुख करके 7 दिन प्रतिदिन पीपल के नीचे बैठकर 108 बार हनुमान चालीसा पढ़ने से आर्थिक लाभ होगा।

– ग्रहों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए प्रत्येक मंगलवार अौर शनिवार हनुमान मंदिर में काले चने अौर गुड़ का प्रसाद बांटे अौर हनुमान चालीसा का पाठ करें।

– राम नाम का जाप करें।

loading...