घर के मुख्य द्वार पर बनाएं ये शुभ चिन्ह, सुख-समृद्धि का होगा आगमन

ganesh-chaturthi-rituals-and-traditions

शास्त्रों के अनुसार घर के मुख्य द्वार पर शुभ धार्मिक चिन्ह बनाने से सुख-समृद्धि का आगमन होता है। इसके अतिरिक्त वास्तु के अनुसार कुछ ऐसे चिन्हों का उल्लेख किया गया है जो घर की सारी चिंताअों से मुक्ति दिलाने में सहायता करते हैं। घर के मुख्य द्वार पर स्वस्तिक, ॐ, श्रीगणेश, शुभ-लाभ आदि चिन्हों को बनाने से घर में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है।

 

* घर में सदैव सुख-समृद्धि बनी रहे इसके लिए मुख्यद्वार पर स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं। इसके साथ शुभ-लाभ का चिह्न बनाना धनात्मक ऊर्जा का सूचक है।

 

* स्वस्तिक का चिह्न बनाने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है इसलिए प्रत्येक त्यौहार पर घर के मुख्यद्वार पर सिंदूर से शुभ-लाभ का चिन्ह बनाया जाता है।

 

* घर में सदैव गणेशजी की कृपा बनी रहे अौर धन में बढ़ौतरी होती रहे इसके लिए घर के मुख्यद्वार पर श्रीगणेश का  चित्रपट एवं स्वस्तिक या अपने धर्मानुसार कोई भी शुभ या मंगल चिह्न अवश्य बनाएं।

 

* घर का मुख्यद्वार दक्षिण मुखी हो तो दरवाजे पर पंचमुखी हनुमानजी का चित्रपट लगाना शुभ होता है।

 

* घर के मेन गेट के सामने पौधा या वृक्ष होना शुभ नहीं होता। ये पारिवारिक सदस्यों की खुशियों के आगमन में अवरुद्ध पैदा करते हैं।

 

* घर का मुख्य द्वार या अन्य खिड़की-दरवाजे खोलते समय आवाज न करें। आवाज करने वाले द्वार शुभ नहीं माने जाते। इससे घर में क्लेश रहता है।

loading...