दुश्मन को पाताल से भी ढ़ूंढ़ निकालने की छमता है इस देश की!

पूरी दुनिया में इज़राइल ही एक ऐसा देश है, जहां सुख, शांति और सुरक्षा है. हालांकि, इज़राइल चारों तरफ़ से अपने दुश्मनों से घिरा हुआ है, मगर किसी भी देश की इतनी हिम्मत नहीं कि वो इज़राइल की तरफ़ आंख उठा कर भी देख ले. अगर किसी ने इस तरह की हिमाकत की भी, तो इज़राइल पलटवार करना जानता है. तकनीक, सुरक्षा, कृषि और देशभक्ति के मामले में इज़राइल का कोई सानी नहीं है. यह एक ऐसा देश है, जिससे विश्व के अन्य देश कुछ सीख सकते हैं. आइए, आपको इज़राइल के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों से रू-ब-रू करवाते हैं.

Source: Operational

 इज़रायल के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

इज़रायल दुनिया का अकेला यहूदी राष्ट्र है. जनसंख्या के लिहाज़ से इज़राइल, दिल्ली के बराबर भी नहीं है और क्षेत्रफल के मामले में तीन इज़राइल मिल कर भी राजस्थान जितना नहीं है.

Source: QPH

 संस्कृति का रक्षक है इज़राइल

धर्म, संस्कृति और भाषा के लिए इज़राइल कुछ भी करने को तैयार रहता है. इज़राइल की भाषा हिब्रू दुनिया में इकलौती ऐसी भाषा है, जिसको पुनर्जन्म मिला है.

 ताक़त में कोई सानी नहीं है

Source: Businessinsider

 सैन्य ताकत के मामले में इज़राइल का कोई सानी नहीं है. अब तक 7 लड़ाइयां लड़ चुका है, जिसमें सभी में जीत मिली है. 7 देशों को अकेले इज़राइल ने हराया था, देखा जाए तो यह विश्व युद्ध से कम ना था. इस युद्ध में भी इज़रायल की जीत हुई.

Source: Telegraph

इज़राइल ही दुनिया का एकमात्र देश है, जो जीडीपी के मामले में सर्वाधिक खर्च ‘रक्षा क्षेत्र’ पर करता है. 

इज़राइल दुनिया का इकलौता ऐसा देश है, जो एंटी बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस है. इज़राइल के किसी भी हिस्से में रॉकेट दागने का मतलब है मौत.

इज़राइल की वायुसेना दुनिया में चौथे नंबर की वायुसेना है. यह किसी भी हमले की सूरत में न सिर्फ़ जवाब देने में सक्षम है. सिर्फ़ अमेरिका, रूस और चीन ही उससे आगे हैं.

इन वजहों के कारण इज़राइल है सबसे ताक़तवर देश

Source: Army

इज़राइल में सभी नागरिकों के लिए सैन्य प्रशिक्षण अनिवार्य है. यहां महिलाओं को भी सेना की ट्रेनिंग लेनी पड़ती है.

Source: Pics

 इज़राइल के पास अपना सैटेलाइट सिस्टम है जिसके इस्तेमाल से वो ड्रोन चलाता है. इज़राइल अपना सैटेलाइट सिस्टम किसी के साथ साझा नहीं करता.

तकनीक

Source: RT

  • ये देश घरेलू कंप्यूटर उपयोग के मामले में दुनिया में पहले नंबर पर है.
  • दुनिया में पहला फोन मोटोरोला कंपनी का इज़राइल में ही बनाया था.
  • माइक्रोसॉफ्ट के लिए पहला पेंटियम चिप यहीं ही बना था.
  • पहली वॉइस मेल तकनीक इज़राइल में ही विकसित की गई थी.
  • दुनिया में पहला एंटीवायरस सबसे पहले सन 1979 में इज़राइल में बना.

ऊर्जा और कृषि के मामले में ये देश आत्मनिर्भर है.

Source: RT

इज़राइल की 90 प्रतिशत आबादी सोलर एनर्जी का इस्तेमाल करती है.

Source: Newyork

  • खाद्यान्न के मामले में ये लगभग आत्मनिर्भर हैं.
  • इज़रायल अपनी जरूरत का 93 प्रतिशत खाद्य पदार्थ खुद पैदा करता है.

‘मोसाद’ इज़राइल की रीढ़ है.

Source: Countercurrents

‘मोसाद’ का मतलब ‘मौत’ है. दुनिया की सबसे ख़ूंखार और ख़ौफ़नाक खुफिया एजेंसी है मोसाद. कोई भी व्यक्ति एक बार ‘मोसाद’ की हिट लिस्ट में आ गया, तो उसका बचना नामुमकिन हो जाता है.

एक छोटे से उदाहरण से बताते हैं:

1972 में जर्मनी के म्यूनीख ओलंपिक गेम्स में फिलिस्तीन के मुस्लिम आतंकवादियों ने 12 इज़राइली खिलाड़ियों की हत्या कर दी थी और दुनिया के मुस्लिम देशों में शरण ले ली. तब इज़राइली प्रधानमंत्री ‘गोल्डा मेयर’ ने खिलाड़ियों के घरवालों को फोन कर के कहा कि ‘हम इसका बदला लेंगे.’ उसके बाद ‘मोसाद’ ने घटना में शामिल सभी आतंकवादियों का नामों-निशान मिटा दिया.

 इज़राइल के बारे में रोचक तथ्य

यहूदी होने के कारण अमेरिका ने Albert Einstein को इज़राइल का राष्ट्रपति बनने की पेशकश की परन्तु आइंस्टीन ने यह पेशकश यह कह कर ठुकरा दी कि वह राजनीति के लिए नही बने.

Source: Inhabitat

 इज़राइली बैंक द्वारा जारी नोट को दृष्टिहीन भी पहचान सकते हैं, क्योंकि उसमें ब्रेल लिपि का भी इस्तेमाल किया जाता है.

इज़राइल एक सशक्त राष्ट्र है. वो अपनी नागरिकों की रक्षा के लिए कुछ भी करने को तैयार रहता है. पूरी दुनिया को चुनौती देते हुए कहता है कि “अगर किसी ने हमारे देश के एक नागरिक को मारा, तो हम उस देश में घुस कर उसके 1000 नागरिकों को मार देंगे.”

Source: NY Times, RT & Israel

loading...