जानिये मोदी जी के ट्विटर पर 3 लाख फ़ालोअर्ज़ कम होने का सच !

_c603f8c6-a818-11e6-9005-31625660f15f

आपको ये ख़बर पढ़कर उन लोगों पर बेहद हँसी आएगी जो मोदी जी के ३ लाख फ़ालोअर्ज़ घटने के बाद बड़े ख़ुश होकर नोट बंदी के फ़ैसले पर ही सवाल उठा रहे थे। ये भी बेहद दुःख कि बात है कि देश का बिकाऊ मीडिया लोगों को नोट बंदी की करवाई के फ़ायदे नहीं गिनवा रहा बल्कि लोगों के लाईन में लगे होने कि वजह से होने वाली परेशानियों को गिनवाने में लगा है।

screen-shot-2016-11-12-at-1-24-59-pm

हमारा मानना है जब लोग अपने फ़ायदे के लिए जीयो सिम के लिए, कभी मूवी की टिकट्स के लिये, कभी रेलवे स्टेशन पर टिकट के लिए और ऐसी ही प्रकार की अन्य जगहों पर खड़े हो सकते हैं तो देश के फ़ायदे में लिए क्यूँ नहीं हो सकते। हमें बिलकुल यक़ीन है कि इस देश के नागरिकों को कोई भी दिक़्क़त नहीं है पर इन मीडिया वालों को ज़्यादा दिक़्क़त हो रही है ताकि ये लोग मोदी जी के ख़िलाफ़ अभियान चलकर इस फ़ैसले को ग़लत साबित कर सकें।

अब आपको बताते हैं कि देशभर में 500 और 1000 रुपए के नोट को बंद करने की घोषणा के तुरंत बाद ही मोदी जी की ट्विटर पर फैन फॉलोइंग में कमी आ गई थी।  रिपोर्ट के मुताबिक नोट बंद करने के एलान के केवल एक दिन बाद मोदी जी के 3 लाख ट्विटर फॉलोअर्स कम हो गए थे।  लेकिन उसके अगले ही दिन  फॉलोअर्स की संख्या में 4 लाख से भी ज्यादा का इजाफा हो गया। और जो लोग तीन लाख फ़ैन घटने की वजह नोट बंदी को बता रहे थे उनके बेहद करारा झटका लगा है।

screen-shot-2016-11-12-at-1-25-08-pm

माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर काउंटर के अनुसार 9 नवंबर को आश्चर्यजनक रूप से मोदी जी के 3 लाख 13 हजार ट्विटर फॉलोअर्स ने उन्हें अनफॉलो कर दिया था।  सबसे दिलचस्प बात यह है कि इससे पहले तक नरेंद्र मोदी के ट्विटर फौलोअर्स में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा था, परंतु इस फैसले के तुरंत बाद गिरावट दर्ज की गई थी।  हालांकि उसके अगले ही दिन 10 नवंबर को पीएम मोदी के 4.3 लाख फोलोअर्स बढ़ गए।

जब हमने सोशल मीडिया एक्सपेर्ट्स और एनालटिक एक्स्पर्ट्स से इनकी वजह जानना चाही तो उन्होंने कहा कि इनकी वजह कोई फ़ैसला नहीं बल्कि बोटस हैं , काफ़ी बार जब किसी की फ़ैन फ़ोलोविंग में कोई आश्चर्यजनक उछाल या गिरावट देखने को मिलती है तो उसका कारण बोटस होते हैं। इंटर्नेट पर बहुत से लोग एक या दो हज़ार में बीस बीस या तीस हज़ार तक फ़ोल्लवर्स देने का धंधा भी करते हैं वो सारा इसी प्रकार की BALACK HAT तकनीकों के ज़रिए होता है ।

loading...
loading...