बड़ा ख़ुलासा :जानिये आखिर क्यों लोगों के घर से पकड़े जा रहें हैं इतने नोट और गहने !

नोटबंदी के बाद काला धन रखने वालों , हवाला कारोबारियों , सट्टेबाज़ों , इधर का माल उधर करने वालों , आँगड़िया करने वालों , नोट छुपा छुपा के घर में रखने वालों आदि सब लोगों पर बड़ी करवाई हो रही है , कोई मोदी जी के विरोध में माने या ना माने लेकिन दबे स्वर में कांग्रेस और सभी विरोधी पार्टियों वाले भी मान रहें हैं कि ऐसा तो कभी भी नहीं हुआ ।

 पहले बात आयी कि नोटों में चिप है , विडीओ भी सामने आए , फिर ये बात उछली की नोट नहीं इनमे रेडीयो एक्टिव इंक है इसलिए नोट पकड़े जा रहे हैं लेकिन अब आपको बता ही देते हैं कि असली वजह क्या है । दरसल और कोई नहीं बल्कि ये देश की जागरूक जनता का कमाल है । ये जितनी भी करवाई हो रही है इन  सब में से अधिकतर PMO ऑफ़िस की सूचना के आधार पर हो रही है और मोदी जी का सख़्त आदेश है चाहे कोई कितना भी ख़ास हो बचना नहीं चाहिए ।

और क्या आप जानते हैं कि PMO को सूचना कहाँ से मिल रही है ? एक बात तो ये है कि इसके पीछे सारी सरकारी मशीनरी और सम्बंधित विभाग जी जान से लगे हैं लेकिन एक और बड़ी वजह से है कि देश की जागरूक जनता PMO तथा बाक़ी विभागों को फ़ोन कर करके भ्रष्ट लोगों के बारे में बता रही है । एक सूचना के आधार पर अकेले PMO कार्यालय में ही रोज़ लगभग १५ से २० काल आ जाती हैं ज़िनमे गुप्त सूचना होती है और ये ८ तारीख़ के बाद से लगातार हो रहा है ।

ये जानकार हर जागरूक भारतीय को बड़ी ख़ुशी होगी कि देश की आम जनता किस क़दर काले धन वालों के पीछे हाथ धोकर पड़ी है और सरकार का सपना साकार करना चाहती है । ये बात ठीक है कि कुछ बैंक वालों की मिलीभगत की वजह से जनता को नोटबंदी से काफ़ी परेशानी हुई और हो सकता है कुछ जगहों पर अभी भी हो रही हो । लेकिन ये भी तय है कि देश का आम जनमानस अंदर ही अंदर से काले धन वालों और भ्रष्टाचार करके कुछ ही सालों में अमीर बने धनकुबेरों को सबक़ सिखाना चाहता है ।

आपको पता ही होगा नोटबंदी के बाद सरकार ने हेल्प लाइन नम्बर जारी किया था और अब कुछ दिन हुई एक मेल आईडी भी जारी कर दी गयी है । विरोधियों को समझ लेने की ज़रूरत है अंदर ही अंदर जनता उनके कितने ख़िलाफ़ हो चुकी है जिन्होंने काले धन पर आघात करने वाली नोटबंदी का विरोध किया था ।

loading...
loading...