इजराइल के प्रधानमंत्री ने ओबामा को दी कड़ी चेतावनी !

ओबामा पर जमकर बरसे इजरायल के प्रधानमंत्री

बराक ओबामा और इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू। तस्वीर: Getty-Images

जेरूशलम। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू शनिवार को ओबामा प्रशासन पर जमकर बरसे। उन्होंने इजरायल अधिकृत फिलिस्तीनी इलाकों में यहूदी बस्तियों के निर्माण को रोकने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में हुए मतदान में अमेरिका के भाग नहीं लेने की कड़ी निंदा की। नेतनयाहू ने शुक्रवार को 15 सदस्यीय निकाय द्वारा पारित प्रस्ताव पर कहा कि ओबामा प्रशासन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कपटपूर्ण और इजरायल विरोधी पैंतरेबाजी के तहत खुद को अलग रखा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, कट्टरपंथी प्रधानमंत्री ने इस कदम को ‘विकृत और शर्मनाक’ बताकर इसकी निंदा की। इजरायल ने अपने न्यूजीलैंड और सेनेगल के राजदूतों को वापस बुला लिया है जिन्होंने वेनेजुएला और मलेशिया के साथ प्रस्ताव पेश किया था। इस प्रस्ताव को 14-0 के बहुमत के साथ पारित किया गया।

नेतनयाहू ने कहा कि इजरायल, संयुक्त राष्ट्र से संबंधों को तोड़ सकता है। उन्होंने कहा कि वह पहले ही पांच ‘बेहद शत्रुतापूर्ण’ संयुक्त राष्ट्र निकायों की राशि में 3 करोड़ शेकेल (80 लाख डॉलर) की कटौती का आदेश दे चुके हैं। संयुक्त राष्ट्र में यह मतदान इजरायल के रेग्युलेशन विधेयक के मद्देनजर हुआ। इसे करीब तीन हफ्ते पहले इजरायली संसद ने मंजूरी दी थी। इसे फिलिस्तीन की कब्जाई गई भूमि पर यहूदी बस्तियों को वैध बनाने के लिए पारित कराया गया।

loading...