महारानी मायावती पकड़े जाने पर इतना घबरायी की झूठ भी अच्छे से ना बोल पायी !

आजकल तो सरे देश में मायावती छाई हुई है और हो भी क्यों न आखिर उनका कुबेर का खजाना (104 करोड़ रुपये) पकडे गए हैं . नोटबंदी के बाद बहुजन समाज पार्टी के दिल्ली के यूनियन बैंक के खाते में 104 करोड़ रुपये जमा कराये हैं .बता दें कि मायावती पकडे जाने के डर से इतना घबरा गयीं कि उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस कर डाली और उसमे भी ढंग से झूठ नहीं बोल पाई . प्रेस कॉन्फ्रेंस में मायावती ने खुद कबूल किया कि 104 करोड़ रुपये नोटबंदी के बाद जमा करवाए हैं . उन्होंने घबराहट में कई झूठ बोल दिए जिसे देखकर सोशल मीडिया पर उनका जमकर मजाक बना .

आइये बताते है मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस में क्या कहा :-

उन्होंने कहा कि बीजेपी और कुछ मीडिया चैनलों ने मेरी पार्टी की छवि खराब करने के लिए हमारे द्वारा बैंक में जमा कराई गयी रकम को बढ़ा चढ़ा कर बताया . हमने तो रूटीन प्रक्रिया के अन्तर्गत ही हमेशा की तरह बैंक में जमा कराया है . उन्होंने कहा हमारे कार्यकर्ता पूरे देश में मेम्बरशिप बनाते हैं उससे जो पैसा मिलता है वो छोटे नोट लेकर नहीं आते,उनको हवाई जहाज से आना होता है इसलिए वे बड़े नोट लाते हैं और दफ्तर में जमा करवा देते हैं .

इसके साफ़ है कि मायावती झूठ बोल रही हैं क्योंकि वे 20 हजार से ऊपर का चंदा लेती ही नहीं लेकिन करोड़ों रुपये में टिकट जरूर बेचती हैं और ऐसा कौन आदमी है तो हवाई जहाज से चंदा लेकर आता है . जब आप कहीं से भी बैंक में पैसा जमा कर सकते हैं तो पैसा हवाई जहाज से दिल्ली लाया ही क्यों ? दरअसल एक निश्चित रकम से अधिक हवाई जहाज से पैसा लाना गुनाह है .

बता दें कि इससे पहले बसपा का बैंक बैलेंस सिर्फ 47 करोड़ था . तो अचानक से यह चंदो की बारिश कैसे हुई ? दरअसल मायवती बुरी तरह से फंस गयी हैं और अब इनकम टैक्स की जांच में तो मायवती की पूरी पोल ही खुल जाएगी .

loading...