वीडियो : आखिर क्या है हमारे देश के जवानो की स्थिति , सुनिए खुद उनकी जुबानी ??

loading...

New Delhi, Jan 09: हाल के समय में देश में देशभक्ति को लेकर काफी चर्चा हुई है। नोटबंदी के बाद से कई बार ये कहा गया कि देश की सेना सीमा पर  जवान तकलीफों के बाद भी अपना काम करता है तो क्या देशवासी कुछ दिनों की तकलीफ नहीं सह सकते हैं। मोदी सरकार के दौर में सेना को सुविधाएं देने के नाम पर काफी हो हल्ला हुआ है। लेकिन सेना के जवान किस कंडीशन में रहकर अपनी ड्यूटी करते हैं उन्हे किन कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है इसको लेकर BSF के एक जवान ने एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो को देखने के  बाद आपको पता चलेगा कि जवान कितनी मुश्किलों के साथ अपने फर्ज को अंजाम देते हैं। इस जवान ने वीडियो में सेना के बड़ा अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप भी लगाया है।

loading...

इस जवान ने अपने वीडियो में बड़े अफसरों से नाराजगी जताई है। जवान ने कहा है कि जवानों को खाना नहीं मिलता है। कई बार तो भूख रहकर ड्यूटी करनी पड़ती है। हालांकि, वीडियो में जवान अपना नाम नहीं बताता। ना ही ये बताता कि उसकी तैनाती किस पोस्ट या सेक्टर में है। आपको बताते हैं कि वीडियो में जवान ने किस तरह से अपना दर्द बयान किया है। देशवासियों को संबोधित करते हुए जवान ने कहा कि मैं आपसे एक अनुरोध करना चाहता हूं। मैं बीएसएफ 29 बटालियन सीमा सुरक्षा बल का का जवान हूं। हम लोग सुबह 6 बजे से शाम को पांच बजे तक लगातार इस बर्फ के अंदर 11 घंटे तक खड़े होकर ड्यूटी करते हैं। आगे कहा कि कितनी भी बर्फ हो, बारिश हो या तूफान हो।

हम इन्हीं हालातों में ड्यूटी करते हैं। मेरे पीछे का सीन शायद आप लोग देख रहे होंगे। वीडियो में शायद आपको ये अच्छे लग रहे होंगे। लेकिन, हमारी जो स्थिति है उसे कोई मीडिया नहीं दिखा रहा है। न ही कोई मंत्री सुनता है। जवान ने कहा कि चाहे कोई भी सरकार आई हो। हमारे हाालात नहीं सुधरे। जवान ने अफने संदेश में कहा कि हमारे अफसर हमारे साथ कितना अन्याय और अत्याचार करते हैं। इसके लिए हम सरकार को दोष नहीं देना चाहते हैं, क्योंकि सरकार हर चीज, हर सामान हमें देती है लेकिन बड़े अफसर उसे बेच देते हैं। हमें कुछ नहीं मिलता। जवान ने कहा कि हालात ये है कि कई बार तो जवानों को भूखा ही सोना पड़ता है। जवान ने कहा कि सुबह का नाश्ता खराब मिलता है। अचार औऱ सब्जी भी नहीं मिलती है।

जवान ने दोपहर के खाने के बार में भी खुलासा किया। उसने बतााया कि दोपहर के खाने में दाल में नमक और हल्दी होता है। उसने कहा कि सरकार सब कुछ देती है। स्टोर भरे पड़े हैं। लेकिन वो सब बाजार में चला जाता है। कौन इसकी बिक्री करता है इसकी जांच होनी चाहिए। जवान ने प्रधानमंत्री से गुजारिश करते हुए कहा कि वो इसकी जांच करवाएं। जवान ने अपनी जान जाने की आशंका जताते हुए कहा कि ये वीडियो डालने के बाद मैं रहूं या न रहूं कोई भरोसा नहीं है। अफसरों के हाथ बहुत लंबे हैं। जवान ने अपील करते हुए कहा है कि इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। मीडिया को दिखाएं वो यहां कर आकर देखे कि जवान किन हालातों में अपने फर्ज के अंजाम देते हैं। ये वीडियो कई सवाल खड़े कर रहा है। अगर जो जवान ने कहा वो सही तो इसकी फौरन जांच करनी चाहिए। हालांकि इस वीडियो की प्रमाणिकता पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं।

loading...
loading...
loading...