अगर जमीन में भी गडा होगा रुपया, समुन्द्र में गल गया होगा या गंगा में बह गया होगा तो वो अपने आप चला आएगा भारत सरकार के पास.